सरकार बनी तो महिला आरक्षण बिल पास कराएंगेःराहुल

0
35

जैपुर/कोरापुट। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि 2019 में यदि उनकी पार्टी की सरकार केंद्र में गठित होती है तो महिला आरक्षण विधेयक लोकसभा में पारित किया जाएगा। उन्होंने महिलाओं के लिए उच्चगुणवत्ता वाली मुफ्त उच्च शिक्षा व सुविधाएं मुहैया कराने के साथ ही यह भी वादा कि विधवा पेंशन 2000 रुपया प्रतिमाह, विवाह के लिए आर्थिक मदद तथा महिला सुरक्षा के लिए हर पंचायत स्तर पर एक स्पेशल अफसर की नियुक्ति की जाएगी। महिला आरक्षण विधेयक लगभग 1996 से लंबित है। इसके पास होने के बाद लोकसभा और विधानसभा में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण मिलने लगेगा।

राहुल जैपुर (कोरापुट) में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर छात्राओं और महिलाओं से बातचीत कर रहे थे। तीन राज्यों में कांग्रेस की कामयाबी के बाद राहुल गांधी आत्मविश्वास से लबरेज हैं। वह अपने फैसलों से अडिग रहे, रुख साफ रख रहे हैं। पार्टी कार्यकर्ताओं के सुझाव को बराबर तवज्जो दे रहे हैं।

उन्होंने इस मौके पर यह भी कहा कि सरकार में आने पर मुफ्त उच्च शिक्षा एवं शिक्षा के क्षेत्र उच्च गुणवत्ता की सुविधाएं उपलब्ध करायी जाएंगी। विवाह के लिए आर्थिक सहायता भी उपलब्ध कराने का उन्होंने वादा किया। महिलाओं से राहुल गांधी ने यह भी कहा कि विधवा पेंशन दो हजार रुपया प्रतिमाह कर दी जाएगी। महिला उत्पीड़न रोकने और पंचायत स्तर पर उन्हें न्याय दिलाने के लिए के लिए हर पंचायत में एक स्पेशल आफिसर तैनात किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि महिला उद्यमियों को प्रमोट करने के लिए वित्तीय निगम (फाइनेंस कारपोरेशन) गठित किया जाएगा। ओडिशा में बढ़ रहे क्राइम अगेंस्ट वूमन पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि रोजाना सात रेप केस दर्ज किए जाते हैं। पीड़िता को न्याय वहुत विलंब से मिलता है। बातचीत के दौरान रफायल का मुद्दा उठाते हुए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उद्योगपति अनिल अंबानी को घेरा।


सवाल जवाब के दौरान राहुल ने कहा, ओडिशा में बहुत खानें (माइन्स) हैं, पैसा है, लेकिन वो पैसा आपके लिए नहीं है। आपने अनिल अंबानी का नाम सुना है। वह महिलाओं से सवाल जवाब के दौरान कहते हैं कि मोदी जी ने राफेल का कांट्रैक्ट एचएएल से छीनकर अपने मित्र अनिल अंबानी को दे दिया। विमान बनाने का कोई अनुभव न रखने वाले अंबानी को तीस हजार करोड़ का फायदा पहुंचा दिया। इतना पैसा मनरेगा को मिलता है। राहुल सवाल उठाते हैं कि कोई बताएगा कि मोदी नीरव मोदी, मेहुल चौकसी को जेल क्यों नहीं भेज रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार बदलना हम सब की जिम्मेदारी है। इसीलिए महिलाओं को राजनीति में आना चाहिए। मैं चाहता हूं कि लोकसभा और विधानसभा में महिलाएं दिखायीं पड़े। राहुल ने शराब की खपत बढ़ने पर भी चिंता जतायी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here