15 को फिर आएंग मोदी, हेलीपैड के लिए हजारों पेड़ कटवा दिए, जांच

0
52

बलंगीर। बीजेपी के स्टार प्रचारक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 15 जनवरी को बलंगीर में जनसभा की तैयारी जोरों पर है। बन विभाग की अनुमति के बिना ही हेलीपैड बनाने के लिए हजारों हरे-भरे पेड़ काट डाले गए। हेलीपैड के लिए हरे पेड़ों की कटान पर डिवीजनल फॉरेस्ट अफसर समीर सत्पथी ने जांच के आदेश किए हैं। उनका कहना है कि वन विभाग की अनुमति ली जानी चाहिए थी। ये पेड़ रेलवे स्टेशन के निकट लगे थे।

वन विभाग की अनुमति नहीं ली गयी

वन विभाग के अनुसार शहरी पौधारोपण कार्यक्रम के अंतर्गत रेलवे स्टेशन के निकट टाउन में करीब 30 हजार पौधों को लगाया गया था। यह पौधारोपण 2015 से 2017 के बीच किया गया था। इन पर दस लाख रुपये का खरच आया था। बलंगीर रेंजर विजय खुंटिया ने अनुसार हेलीपैड एरिया में पेड़ों की संख्या तीन हजार बतायी जाती है। वह कहते हैं कि पता लगाया जाएगा कि किन परिस्थितियों में ये पेड़ काटे गए। सूत्रों ने बताया कि उल्लेखनीय तो यह है कि वन विभाग की अनुमति के बगैर ही पेड़ काट डाले गए। विभाग को पेड़ों की कटान की शिकायतें मिली हैं। सहायक वन संरक्षक बाबाचरण राउल ने बताया कि मौका मुआयना के बाद जांच की दिशा तय की जाएगी।

झारसुगुडा नहीं छत्तीसगढ़ से बलंगीर आएंगे 

15 जनवरी की निर्धारित जनसभा के लिए पीएम नरेंद्र मोदी वाया झत्तीसगढञ पहुचेंगे। उनके कार्यक्रम में परिवर्तन किया गया है। पहले उन्हें झारसुगुडा के वीर सुरेंद्र साय एयरपोर्ट से होकर हेलीकाप्टर से बलंगीर जाना था। पर अब उनका विभाग दिल्ली से सीधे रायपुर पहुंचेगा। वहां से हेलीकाप्टर से मोदी बलंगीर सभा स्थल पर पहुंचेंगे। यह कार्यक्रम शनिवार रात को बदला गया। झारसुगुडा एयरपोर्ट को नॉन-फंक्शनिंग माना जाता है। हाल ही में ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने पीएम और सिविल एविएशन मंत्रालय को पत्र लिखकर झारसुगुडा में उडान स्कीम के तहत नियमित फ्लाइट का अनुरोध किया था। यदि मोदी का विमान झारसुगुडा एयरपोर्ट पर उतरता तो इस एयरपोर्ट पर उतने वाले मोदी पहले वीआईपी होते। बीते तीन हफ्तों में यह मोदी की तीसरी विजिट होगी।

मोदी का अवतार सांताक्लाज

सांताक्लाज का अवातर बनकर आए प्रधानमत्री नरेंद्र मोदी ने 24 दिसंबर को खोरदा में जनसभा वाले दिन 14,500 करोड़ रुपये की लागत की परियोजनाओं की सौगातें ओडिशा को दी थी। यही नहीं उन्होंने 5 जनवरी को बारीपदा (मयूरभंज) में 4,500 करोड़ के प्रोजेक्टों का उद्घाटन व शिलान्यास किया। अब 15 जनवरी को 1.545 करोड़ की परियोजनाओं को ओडिशा को सौपेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here