सुंदरी की दहशत, गांव वालों ने वन विभाग की नावें फूंकी

0
380

भुवनेश्वर 13 सितंबर। अनुगुल जिले की सतकोसिया टाइगर रिजर्व की रायल बंगाल शेरनी सुंदरी की शिकार हुई आदिवासी महिला की मौत के बाद गांव वाले गुस्साए हैं। वन विभाग की नावों को आगके हवाले कर दिया गया। बुधवार को वन विभाग की हाटीबारी स्थित चौकियों में गांव वालों ने आग लगा दी थी।

टिकरापाडा के आफिस को भी ग्रामीणों ने फूंक डाला था। इसके अलावा वन विभाग के कर्मचारियों पर भी गांव वालों ने हमला कर दिया। मौके पर वन रक्षक और पुलिस तैनात कर दिए गए हैं। आसपास के गांव में शेरनी की दहशत फैली है।

आदिवासी महिला का शेरनी ने शिकार कर लिया था। वह बकरियां चराने गयी थी। गांव वालों का कहना है कि शेरनी गांव में भी घुस सकती है। उनका कहना है कि शेरनी को बाड़े के भीतर से बाहर नहीं छोड़ना चाहिए था। गांव की मांग की वन विभाग ने अनदेखी की। यह शेरनी 27 माह की है। इसे सात अगस्त को मध्यप्रदेश के बंधवागढ़ से लाया गया था।