संदेश देने को निकली गोपबंधु ज्योतियात्रा का भव्य स्वागत

0
168

कटक। उत्कलमणि पंडित गोपबंधु दास की 141वीं जयंती के अवसर गोपबंधु ज्योति यात्रा का शुभारंभ किया गया। उत्कलमणि के गांव स्वांडों (पुरी) से भुवनेश्वर होते हुए कटक समाज परिसर गोपबंधु भवन पहुंची ज्योतियात्रा का जनसमूह ने स्वागत किया।

ज्योतियात्रा पूरे ओडिशा के सभी 30 जिलों के 314 ब्लाकों से होकर गुजरेगी और दस नवंबर को पुनः कटक में समाप्त होगी। इस यात्रा का उद्देश्य गोपबंधु जी के विचार दर्शन को जन-जन तक पहुंचाना है। ओडिशा के लोगों का कहना है कि गोपबंधु जी के सिद्धांत आज भी प्रासंगिक हैं। ज्योति यात्रा के वाहक लोकसेवक मंडल के आजीवन कर्मी राजेंद्र जेन और प्रवास आचार्य रहे।

गोपबंधु ज्योति यात्रा दोपहर को जैसे ही गोपबंधु भवन कटक पहुंची लोगों ने पंडित गोपबंधु अमर रहें का उद्घोष किया। लोक सेवक मंडल के अध्यक्ष एवं समाज प्रबंधन बोर्ड के चेयरमैन दीपक मालवीय, महामंत्री निरंजन रथ, कोषाध्यक्ष एवं कार्यकारी सचिव भीमसेन यादव, समाज के संपादक बामापद त्रिपाठी, कार्यवाहक महाप्रबंधक प्रियब्रत महंति ने ज्योति को उत्कलमणि गोपबंधु की प्रतिमा के निकट रखा और पुष्पांजलि अर्पित की।