विपक्ष ने श्रीमंदिर प्रकरण पर विधानसभा नहीं चलने दी

0
58

भुवनेश्वर 17 अप्रैल। जगन्नाथ पुरी मंदिर में महाप्रभु की रीतिनीति में विलंब का मुद्दा विधानसभा में छाया रहा। विपक्षी दल कांग्रेस और भाजपा पुरी मंदिर का मुद्दा उठाया जिसमें जगन्नाथ भगवान को भोग न लगाया जाना और महाप्रसाद का उपयोग न हो पाना शामिल है।

विपक्ष ने इसके लिए श्रीमंदिर प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया। श्रीमंदिर मुद्दे पर हंगामा मचने के कारण विधानसभा अध्यक्ष को दो बार सदन स्थगित करना पड़ा। विधायकों का कहना है कि यह अति निंदनीय है कि महाभोग नहीं लग पाया और महाप्रसाद वितरण नहीं हुआ। नेता विपक्ष कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नरसिंह मिश्र ने इसके लिए शासन व्यवस्था को जिम्मेदार बताया।

भाजपा विधायक प्रदीप पुरोहित ने कहा कि सेवायत हड़ताल प हैं और सरकार इसका हल निकालने के बजाय गहरी नींद में है। उन्होंने कहा कि रीतिनीति में कुप्रबंध के लिए संबंधित लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाए। बीजद सरकार के मुख्य सचेतक अमर सत्पथी ने कहा कि सरकार सचेत है और समस्या का हल निकालकर कार्रवाई की जाएगी।

मालूम हो कि ओडिशा हाईकोर्ट ने मंदिर को लेकर बीपी दास कमीशन की रिपोर्ट लागू करने को कहा था। श्रीमंदिर प्रशासन के प्रमुख प्रदीप जेना ने सेवायतों से अपील की है कि श्रीमंदिर के कामकाज को सुचाररूप से संचालन के लिए प्रशासन को सहयोग करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here