महिला दिवस थीम बैलेंस फॉर बेटर पर परिचर्चा को जुटी महिलाएं

0
155

भुवनेश्वर। अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर राष्ट्रीय संगठन सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च के तत्वावधान में एकत्र महिलाओं ने उन महिलाओं को सैल्यूट किया गया जो हर हाल परिस्थितियों के साथ संतुलन बनाकर अपने परिवार और समाज में चलती है।

बुद्ध मंदिर यूनिट-3 में एकत्र हुईं महिलाओं ने संकल्प लिया कि उनकी प्रगति मूल मंत्र महिला दिवस का थीम बैलेंस फॉर बेटर है। ज्यादातर महिलाओं का कहना था कि यदि परिवार में संतुलन बनाए रखा गया तो कहीं से कोई दिक्कत नहीं है। समय परिवर्तन के साथ ही सामाजिक परिवर्तन भी हो रहा है। इस परिवर्तन के ढांचे में ढालकर चलना होगा। प्रगति के मार्ग खुलें हैं। उन्हें चिन्हिंत करके मेहनत और लगन से मंजिल प्राप्त करना है।

कार्यक्रम की संयोजक ममता सिंह का कहना है कि कार्यक्रम में भुवनेश्वर के विभिन्न क्षेत्रों से काफी संख्या में महिलाओं ने शिरकत की। इस कार्यक्रम में उन महिलाओं के किस्से बताए गए जो अपने जीवन में बदलाव लाकर बाकी महिलाओं के लिए प्रेरणास्रोत बन गयी हैं। विभिन्न क्षेत्र की महिलाओं ने अपने अनुभव शेयर करके कार्यक्रम में पहुंची महिलाओं की हौसलाआफजायी की। महिलाओं ने खासकर उन महिलाओं की सराहना की जो संतानों द्वारा उपेक्षित वृद्ध माता-पिता की देखभाल करती हैं। कन्या भ्रूण हत्या रोकने को जागरूकता अभियान चला रही हैं। संपत्ति में अधिकार मांगने वाली प्रताड़ित महिलाओं की रक्षा करने में जुटी हैं।
कार्यक्रम में वक्ताओं ने महिला दिवस की थीम बैलेंस फॉर बेटर पर व्याख्यान दिए। इस अवसर पर म्युनिसिपल डिप्टी कमिश्नर प्रमोद पृष्टी, राज्य महिला आयोग की सदस्य स्नेहांजलि महंति, चाइल्ड वेलफेयर कमेटी सदस्य राजलक्ष्मी दास, सखा अध्यक्ष मीरा परीडा, चक्र की स्टेट हेड सुश्री भारती, हेल्पेज इंडिया की उषा रानी बेहरा, बीजीवीएस के गौतम आर्य भूषण, देवस्मिता पटनायक, रोजलीन पटनायक, प्रज्ञान्या रथ, ममता सिंह, मेघना साहू, मेनका, सुकांत साहू, जयश्री दास आदि लोग उपस्थित रहीं।