महाप्रभु की प्राप्ति को 3 वर्ष की साष्टांग प्रणाम योग

0
50

पूरी 4 जुलाई। नेपाल सीमा क्षेत्र बिहार के जनकपुरी (दरभंगा) के साधु रघुवीर शरण (54) महाप्रभु जगन्नाथ के दर्शन के लिये दण्ड प्रणाम यानि साष्टांग प्रणाम करते करते 3 साल बाद जनकपुरी से पूरी धाम पहुंचे। उनकी साष्टांग प्रणाम दर्शन यात्रा 3 वर्ष पूर्व शुरू हुई थी। उनका कहना है कि भगवान को पाने का यह एक योग है। उन्हें विश्वास है कि भगवान जगन्नाथ उन्हें दर्शन देंगे। रघुवीर शरण के साथ लाल बाबा और एक अन्य शिष्य भी है। वह कहते हैं यह एक तपस्या है ईश्वर की प्राप्ति के लिए। उनका कहना है कि वैष्णव क्षेत्र से वह शैव क्षेत्र रामेश्वरम जायेंगे। साधु रघुवीर पुरी से 10 किलोमीटर पहले चंदनपुर के निकट मिले थे। उनके सहयोगी लोगों की मदद से खाना पीना व अन्य जरूरत की वस्तुएं एकत्र करते हैं।