फॉनी चक्रवात से तबाही की समीक्षा की नवीन ने बैठक की तो सचिवालय में बैठा केंद्रीय दल

0
64

भुवनेश्वर। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने फॉनी से पुरी में मची तबाही की समीक्षा के लिए दो मंत्रियों और चीफ सेक्रेटरी आदित्य पाढ़ी के साथ पुरी सरकिट हाउस में बैठक की और रिलीफ की घोषणा की। फॉनी से सर्वाधिक तबाही का शिकार हुआ पुरी पर मुख्यमंत्री नवीन पटनायक पैनी नजर रखे हैं। बुधवार को उन्होंने सरकिट हाउस पुरी में राहत और पुनर्वास कार्यों की समीक्षा की। उनके साथ मुख्यसचिव आदित्य प्रसाद पाढ़ी भी थे। पटनायक ने बताया कि पुरी में दस हजार लोग चौबीस घंटे राहत पुनर्वास के काम में लगे हैं। हालात जल्द ही सामान्य होंगे। यह भी बिजली आपूर्ति की बहाली के प्रयास युद्धस्तर पर किए जा रहे हैं। पीड़ितों को तुरंत 50 किग्रा.चावल, हर दस दिन बाद ढाई लीटर केरोसिन ऑयल, दस लाख मोमबत्तियां वितरित की जा रही हैं। सरकिट हाउस की बैठक में मुख्यमंत्री के साथ राहत संबंधी बैठक में पहली बार उर्जा मंत्री सुशांत सिंह और स्वास्थ मंत्री प्रताप जेना भी उपस्थित रहे।

केंद्रीय दल ने राहत कार्य संतोषजनक बताया

गृह मंत्रालय के अपर सचिव विवेक भारद्वाज की अध्यक्षता में भेजे गए केंद्रीय दल ने आपदा प्रबंधन पर ओडिशा सरकार की तारीफ की। तीन दिन से पुरी, खोरदा, भुवनेश्वर और कटक में जाकर फॉनी से हुई क्षति जायजा ले रहे केंद्रीय दल ने सचिवालय में चीफ सेक्रेटरी आदित्य पाढ़ी के साथ बैठक की। भारद्वाज ने बताया कि पुरी का तो आधारभूत ढांचा ही ध्वस्त हो गया है। वहां पानी, बिजली, सड़क, स्वास्थ, संचार, कृषि आदि सेवाएं पंगु हो गयीं। राहत और पुनर्वास के काम पर केंद्रीय दल ने राज्य सरकार की तारीफ की। भारद्वाज ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार मिलजुलकर ओडिशा को इस संकट से उबारेंगे।