धूम से मना ओडिशा का नया साल, उड़िया पंचांग शुरू

0
81

कटक। उड़िया लोग 14 अप्रैल को नव वर्ष मनाते हैं। इस दिन उड़िया पंचांग शुरू होता है। इसे महा विशुभ संक्रांति भी कहते हैं। विशुभ संक्रांति अथवा पना संक्रांति उड़िया नववर्ष के आगमन का पर्व है।
शनिवार को इस मौके पर ओडिशा के विभिन्न मंदिरों में लोगों का तांता लगा रहा। सबसे ज्यादा भीड़ पुरी के प्रसिद्ध जगन्नाथ मंदिर में दिखी। इस अवसर पर एक विशेष पूजा आयोजित की गई। फिर भुवनेश्वर के लिंगराज मंदिर व अन्य मंदिरों में रही। इसे पना संक्रांति भी कहा जाता है। जगह-जगह लोगों ने पना के स्टाल लगाकर लोगों को मुफ्त में पना पिलाया। तमाम संस्थानों में भी पना संक्रांति पर लोगों को पना पिलाया गया। लोगों ने कच्चे आम या बेल और चीनी से बना खट्टा-मीठा शर्बत ‘पना’ पीकर नववर्ष का स्वागत किया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने ट्वीट करके महा विशुभ संक्रांति के मौके पर ओडिशा के लोगों को बधाई दी है। मोदी ने ट्विटर पर लिखा, “महा विशुभ संक्रांति पर मैं उड़िया लोगों को अपनी शुभकामनाएं देता हूं। मैं कामना करता हूं कि आने वाला वर्ष खुशियों और सफलता से भरा हो।” पटनायक ने ट्वीट किया, “मैं महा विशुभ संक्रांति और उड़िया नववर्ष पर शुभकामनाएं देता हूं।”

केद्रीय मंत्रियों -जुआल ओराम और धर्मेद्र प्रधान, विधानसभा में विपक्ष के नेता नरसिंह मिश्रा, कांग्रेस की राज्य इकाई के अध्यक्ष प्रसाद हरिचंद्रन और भाजपा की राज्य इकाई के अध्यक्ष बसंत पांडा समेत कई नेताओं ने ओडिशा के लोगों को नववर्ष की बधाई दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here