धूम से मनाया जा रहा है ओडिशा में रजो पर्व

0
269

भुवनेश्वर। रजो पर्व के पहले दिन राज्य के शहरी और ग्रामीण इलाकों में खासी हलचल रही। शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में सांस्कृतिक विविधता के दृश्य दिखायी दिए। रजो पर्व पर बाजारीकरण हावी रहा। मार्केट में खासी चहल-पहल देखी गयी। रजो पर्व और ईद की तारीखे आसपास होने के कारण बाजार की रंगत देखते ही बनती है। गुरुवार को गली मोहल्लों में छोटी-बड़ी लड़कियां सज संवर कर चहलकदमी, खो-खो खेल, झूला में व्यस्त दिखीं। पकवान बनाने की तैयारी घरों में एक दिन पहले से ही शुरू हो गयी थी।

तीन दिवसीय ‘रजो’ के दौरान घर की महिलाएं और लड़कियां घरेलू कामकाज से पूरी तरह से अलग रहीं।  पैरों में आलता लगाकर, नए कपड़े और नए आभूषणों से सज-धजकर घरों-से बाहर निकली। स्थानीय लोगों के लिए सभी तरह की मस्ती का यह त्योहार सोल्लास मनाया जा रहा है। इस दौरान घर को संभालने की जिम्मेदारी  घर के पुरूषों पर होती है,भले ही रसोई हो या साफ़-सफ़ाई,सबकुछ पुरूष ही संभालते हैं। इस ‘रजपर्व’ के दौरान धरती पर नंगे पैर चलने से सख्त मनाही होती है। कुल मिलाकर पूरे चार दिनों तक ‘रजो’ की धूम रहती है।