ओडिशा में बाढ़, 15 जिलों में अलर्ट, गंजाम में 6 लापता

0
136

भुवनेश्वर। तितली चक्रवाती तूफान के प्रभाव के चलते ओडिशा में बारिस थमी नहीं। मौसम विभाग ने 15 में अलर्ट जारी किया है। तटीय जिलों की ओर बहने वाली नदियों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। ओडिशा में स्कूल कालेज आज भी बंद रहे। गंजम, गजपति, बालासोर में नदियों में बाढ़ की स्थिति बनी हुई है। कटक और भुवनेश्वर के निचली सतह वाले क्षेत्रों में जलभराव की नौबत आ गयी है। बाढ़ का पानी गंजाम जिले भंजनगर के बंसालुंडी, जामापल्ली, गामुंडी क्षेत्र जलमग्न है। खोरदा के बेगुनिया, तांगी व जटनी रेलवे स्टेशन के पास खोरदा में भी पानी घुस रहा है। आंध्र के श्रीकाकुलम व विजयनगरम तटवर्ती इलाके में आठ लोगों के बह जाने की खबर की पुष्टि हुई है। ओडिशा के गजपति जिले में भी जनहानि की रिपोर्ट है। ओडिशा सरकार का दावा है कि यहां मौत की कोई खबर नहीं है। उधर गंजम में 6 लोगों के बह जाने की सूचना है। हालांकि सरकार ने इसे खारिज किया पर जिला कलक्टर कहते हैं कि सर्च आपरेशन जारी है।

प्रलय मचा देने वाले तितली भले ही पश्चिमबंगाल की ओर मुड़ गया हो उत्तर और दक्षिण तटवर्ती क्षेत्र में तबाही छोड़ गया है। तटीय जिलों में बारिश लगातार जारी है। यहां पर पेड़, खंभे आदि टूटने की घटनाएं हुई हैं। मौसम विभाग के अनुसारगुरुवार से ओडिशा तट क्षेत्र में बारिस हो रही है। मुख्य सचिव एपी पाढ़ी का कहना है कि ओडिशा में बाढ़ जैसी स्थिति नहीं है। पर बताया जाता है कि भारी बारिस के कारण गजपति और रायगढ़ा जिले में वंशधारा नदी उफना रही है। गुरुवार को गजपति जिले में 315 एमएम बारिस हुई है। ऋषिकुल्या नदी में भी पानी बढ़ा है। विशेष राहत आयुक्त विष्णुपद सेठी ने कहा कि बाढ़ पर नजर है, मॉनीटरिंग की जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से फोन पर बात करके तितली से तबाही पर चर्चा करके मदद आश्वासन दिया।

गंजाम में छह लापता्

जिले के गजलबाड़ी पंचायत के दो परिवारों के 6 लोग लापता है। समझा जाता है ये लोग तितली की चपेट में आ गये। यह घटना भंजनगर ब्लाक के भुतापंकल ग्रामपंचायत की है। यह क्षेत्र अदांगीनदी के तट पर है। गंजम कलक्टर विजय अम्रत कुलांगे का कहना है कि सर्च आपरेशन चलाया जा रहा है। अभी तक कोई खबर नहीं है।